ब्लॉग छत्तीसगढ़

17 March, 2015

जिला न्‍यायालयों के महत्‍वपूर्ण निर्णय

भारतीय न्यायपालिका में सूचना और संचार प्रौद्योगिकी के कार्यान्वयन के लिए भारत के सवोच्‍च न्यायालय द्वारा ई- न्यायालय परियोजना 2005 के तहत् न्‍याय निर्णयों को सुलभ बनाने के लिए ई-कोर्ट वेबसाईट बनाया गया है जिसमें जिला एवं ताल्‍लुका न्‍यायालयों के न्‍याय निर्णय भी अब पीडीएफ फारमेट में तत्‍काल प्राप्‍त हो जा रहे हैं। इसके पूर्व सिर्फ सवोच्‍च न्‍यायालय एवं उच्‍च न्‍यायालयों के न्‍याय निर्णय ही इंटरनेट के माध्‍यम से प्राप्‍त हो पाते थे, अब ई-कोर्ट के कारण भारत के प्रत्‍येक जिला एवं ताल्‍लुका न्‍यायालयों के न्‍याय निर्णय कुछ क्लिक में उपलब्‍ध हो पा रहे हैं।

हमने ई-कोर्ट में उपलब्‍ध, छत्‍तीसगढ़ के जिला एवं ताल्‍लुका न्‍यायालयों के कुछ विशेष न्‍याय निर्णयों को एक ब्‍लॉग बनाकर प्रस्‍तुत करने का प्रयास किया है। जिसका लिंक यहॉं है, अभी कुछ दिन पहले छत्‍तीसगढ़ के गैंगेस्‍टरों के बीच हुए महादेव हत्‍याकाण्‍ड का फैसला दुर्ग न्‍यायालय के द्वारा दिया गया उसे भी इस ब्‍लॉग में शामिल किया गया है। हम प्रयास करेंगें कि नियमित रूप से महत्‍वपूर्ण एवं आवश्‍यक स्‍थानीय न्‍याय निर्णयों को उक्‍त ब्‍लॉग में प्रस्‍तुत करें।

सूचनार्थ ..

1 comment:

आपकी टिप्पणियों का स्वागत है. (टिप्पणियों के प्रकाशित होने में कुछ समय लग सकता है.) -संजीव तिवारी, दुर्ग (छ.ग.)

loading...

Popular Posts