ब्लॉग छत्तीसगढ़

Popular Posts

26 December, 2015

ठीक पकड़े हैं, शौंचालय बनाना सस्ते का सौदा है

आप बिलकुल ठीक पकड़े हैं आप शौचालय बनाने की सोच रहे हैं या शौचालय में एसी लगाने की सोच रहे हैं जिसके चलते शौचालय महंगा बनेगा। शौचालय मह...

18 December, 2015

बाबा नागार्जुन याद आये कई दिनों के बाद

1952 में अकाल और उसके बाद नागार्जुन नें 'कई दिनों के बाद' लिखा। हमने भी कई कई दिनों के अंतराल में इसे पढ़ा, नाट्यशालाओं में रे...

11 December, 2015

सुनीता वर्मा के चित्रों की तिलस्मी और सम्मोहक दुनियां

-     विनोद साव अपनी सिमटी हुई दुनियां में यह पहली बार था जब किसी चित्रकार के घर जाना हुआ था. चित्रकारों कलाकारों से दोस्ती तो रही ...

02 December, 2015

राष्ट्रीय जनजातीय नाट्य अभिव्यक्ति उत्सव : आदि परब – 2

छत्तीसगढ़, आदि कलाओं से संपन्न राज्य है, यहां सदियों से जनजातीय समुदाय के लोग निवास करते आ रहे हैं। बस्तर, सरगुजा एवं कवर्धा क्षेत्र सहित य...

09 November, 2015

विनोद साव की कृति ‘मेनलैंड का आदमी’ का विमोचन

छत्तीसगढ़ प्रदेश हिंदी साहित्य सम्मलेन, रायपुर द्वारा विगत १८ अक्टूबर को ‘मायाराम सुरजन स्मृति लोकायन’ में प्रादेशिक सम्मलेन का आयोजन किय...

08 November, 2015

मजदूर आन्दोलनों के शहर में

-     विनोद साव भिलाई के इस फीडिंग सेंटर में आना जाना अक्सर होता रहा है. भिलाई इस्पात संयंत्र लोहे का कारखाना है और यह शहर इसे कच्चे ल...

02 November, 2015

छत्‍तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस पर राज्‍य अलंकरण

छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर प्रदेश सरकार द्वारा आज यहां बूढ़ातालाब (विवेकानंद सरोवर) के सामने इंडोर स्टेडियम में आयोजित अलं...

29 October, 2015

हरिभूमि चौपाल, रंग छत्‍तीसगढ़ के और संपादकीय हिन्‍दी

कहते है कि लेखन में कोई बड़ा छोटा नहीं होता। रचनाकार की परिपक्वता को रचना से पहचान मिलती है। उसकी आयु या दर्जनों प्रकाशित पुस्तके गौड़ ह...

15 October, 2015

गूगल डॉक्स में आनलाईन बोल कर टाईप करने की सुविधा

रविशंकर श्रीवास्‍तव जी नें अपने ब्‍लॉग में जब गूगल डॉक्स में बोल कर हिंदी लिखने की उम्दा सुविधा उपलब्ध नाम से पोस्‍ट पब्लिश किया था तब से...

13 October, 2015

छत्‍तीसगढ़ी की अभिव्यक्ति क्षमता : सोनाखान के आगी

छत्‍तीसगढ़ी के जनप्रिय कवि लक्ष्मण मस्तुरिया की कालजयी कृति 'सोनाखान के आगी' के संबंध में आप सब नें सुना होगा। इस खण्‍ड काव्‍य क...

10 October, 2015

द्रोपदी जेसवानी की ‘अंतःप्रेरणा’

अभी हाल ही में द्रोपदी जेसवानी की एक कविता संग्रह ‘अंत: प्रेरणा’ आई है। संग्रह की भूमिका डॉ. बलराम नें लिखी है, जिसमें द्रोपदी जेसवानी...

07 October, 2015

सामयिक प्रश्‍न: कोजन का होही

धर्मेंद्र निर्मल छत्तीसगढ़ी भाषा के साहित्य मे एक जाना पहचाना युवा नाम है। धर्मेंद्र निर्मल आजकल व्यंग, कहानी, कविता और छत्तीसगढ़ी के अन...

14 September, 2015

हिन्दी मेरी भाषा

मेरे मन की भाषा हिन्दी मेरे बोल की भाषा हिन्दी। सबसे सहज, सबसे सरल सबसे मीठी, हमारी हिन्दी।। झरने के कल—कल सी हिन्दी कोयल के मीठे कूक ...

12 September, 2015

भूमि अधिग्रहण : असंतोष जारी है

भूमि अधिग्रहण कानून पर संसद से सड़क तक हो रहे राष्‍ट्रव्‍यापी हो-हल्‍ले पर पिछले दिनों विराम लग गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘मन की...

09 September, 2015

लिफ्ट का गिफ्ट

हमारे देश में नगर रक्षक प्रहरियों का जलवा सदियों से बरकरार रहा है। नगर में शासन व्यवस्था एवं अनुशासन कायम रखने का प्रभार इन्हीं के हाथों र...

31 August, 2015

तथाकथित सुभद्रा कुमारी चौहानों और महादेवियों के बीच मीना जांगड़े

छत्तीसगढ़ की एक 10वीँ पढी अनुसूचित जाति की ग्रामीण लड़की की कविताओं के दो कविता संग्रह, पिछले दिनों पद्मश्री डॉ सुरेन्द्र दुबे जी से प्राप्त...

25 August, 2015

तुलसी जयंती समारोह : हिन्‍दी साहित्‍य समिति का आयोजन

23 अगस्त को मानस भवन दुर्ग मेँ,हिंदी साहित्य समिति दुर्ग के द्वारा तुलसी जयंती समारोह का आयोजन किया गया। समारोह के पहले सत्र मेँ गोस्वाम...

31 July, 2015

पुरूरवा का पूर्वानुमान एवं सीता जी की आखिरी रात

पारम्‍परिक साहित्‍य में प्रेम एवं विरह, गद्य एवं पद्य की मूल विषय वस्‍तु रही है. विभिन्‍न महान कवि एवं लेखकों नें इसे केन्‍द्र में रखकर सा...