ब्लॉग छत्तीसगढ़

22 March, 2013

लाइनेक्‍स के प्रति आग्रह

पिछले दिनों भिलाई के स्‍वामी श्री स्‍वरूपानंन्द सरस्‍वती महाविद्यालय में लाईनेक्स इंडिपेन्डेंट वर्क स्टेशन विषय पर एक कार्यशाला आयोजित किया गया था जिसमें विषय विशेषज्ञों के द्वारा लाइनेक्सं के अनुप्रयोग संबंधी वक्तव्य दिये गए.

प्राचार्य डॉ.(श्रीमती) हंसा शुक्ला ने बताया कि कार्यशाला के आयोजन का मुख्य उद्धेश्य महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं को साफ्टवेयर की एक ऐसी तकनीक से अवगत कराना था जिसमें कि वे पूर्णतः स्वतंत्र वातावरण में कार्य कर सकें। कार्यशाला में उपस्थित मुख्य वक्ता क्षितिज सिंघई (निदेशक, इन्फोसाल्यूशन) ने लाईनेक्स तकनीक की बारीकियों तथा लाईनेक्स में काम करने की तरीकों और उपयोग में आने वाली भाषाओं के संबंध में छात्र-छात्राओं को जानकारी दी। उन्‍होंनें छात्र-छात्राओं को लाईनेक्स में कार्य करना भी सिखाया व लाईनेक्स से संबंधित सर्टिफिकेशन कोर्स के महत्व को भी बताया। रेड हैड के सचिन नायक जो कि विषय विशेषज्ञ के रूप में कार्यशाला में उपस्थित थे। उन्होंने लाईनेक्स और विन्डोज के अंतर को छात्र-छात्राओं को समझाया व बतलाया कि कम्‍प्‍यूटर के क्षेत्र में एकाधिकार को समाप्त करने में लाईनेक्स ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

इस समाचार से मुझे खुशी हुई कि अब धीरे धीरे लाईनेक्‍स के प्रति नई पीढ़ी की रूचि बढ़ रही है। प्राप्‍त जानकारी के अनुसार यह कार्यक्रम महाविद्यालय स्‍तर का था एवं इसमें व्‍याख्‍याता व छात्र छात्राओं नें भाग लिया, आगे इन्‍हीं छात्र छात्राओं को माईक्रोसाफ्ट से लोहा लेना है। 
शुभकामनायें ...

8 comments:

  1. बात खुशी की है, मैने सुना है लाईनेक्स कठिन ज़रूर है विन्डोज़ से लेकिन पूर्णतया
    सुरक्षित है , क्या ये सच है ?

    ReplyDelete
  2. लाइनेक्स का छोटा संस्करण एण्ड्रॉयड है, जो अब हर दूसरे व्यक्ति के जेब में रखे स्मार्टफ़ोन में है. लाइनेक्स तो अब घर घर पहुँच चुका है!

    ReplyDelete
  3. जब १९९८ में लिनक्स के बारे में सुना था तब नहीं लगता था कि यह इतना फैल पायेगा।

    ReplyDelete
  4. भाई साहब आप भी बधाई के पात्र हैं

    ReplyDelete
  5. अच्छी जानकारी ... होली की हार्दिक शुभकामनायें...

    ReplyDelete
  6. आपको जानकार ख़ुशी होगी कि सीबीएसई ने अपने पाठ्यक्रम में क्लास 9-10 के लिए लिनुएक्स को शामिल किया हुआ है. ऐसे ओपन ऑफिस का प्रचलन धीरे धीरे बढ़ रहा है. जरुरत है लोगों को बताने की और उन्हें aware करने की.

    ReplyDelete
  7. कालि लाइनेकस के विषय मे कुछ जानकारी है तो बताना

    ReplyDelete

आपकी टिप्पणियों का स्वागत है. (टिप्पणियों के प्रकाशित होने में कुछ समय लग सकता है.) -संजीव तिवारी, दुर्ग (छ.ग.)

loading...

Popular Posts