ब्लॉग छत्तीसगढ़

Popular Posts

31 March, 2010

ओम प्रकाश जिंदल : उर्जा सर्जक लौह शिल्‍पी

किसान से सफल उद्योगपति, सुप्रसिद्ध समाजसेवी व कुशल राजनीतिज्ञ के रूप में स्व. ओम प्रकाश जिंदल (7 अगस्त 1930-31 मार्च 2005) ने जीवन की प्रत्...

29 March, 2010

मेरी अहिंसा का अर्थ कायरता नहीं : प्रेम साइमन का विरोध

विश्व रंगमंच दिवस पर नेहरू सांस्कृतिक सदन सेक्टर-१ में शनिवार को तीन नाटकों का मंचन किया गया। भिलाई के रंग कर्मियों और क्रीड़ा एवं सांस्कृतिक...

28 March, 2010

गणेश शंकर 'विद्यार्थी' पत्रकारिता के आदर्श पुरुष : बख्शी सृजनपीठ का कार्यक्रम

आदर्श पत्रकारिता को जीवंत बनाकर भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में हुंकार भरने वाले शहीद गणेश शंकर विद्यार्थी का बलिदान दिवस पदुमलाल पुन्नालाल बख...

27 March, 2010

बस्तर मे आदिवासियों का माटी तिहार और उल्लास

बस्तर के आदिवासियों का जीवन तथा सारा अस्तित्व जन्म से लेकर मृत्यु पर्यंत माटी से ही जुड़ा होता है। माटी के बिना वह स्वयं की कल्पना नहीं कर सक...

26 March, 2010

सामूहिकता का आनंद और संस्‍कार

क्षमा करें मित्रों मैं मित्रों के कुछ सामूहिक ब्‍लॉगों, जिनसे मैं बतौर लेखक जुडा था, से अपने आप को अलग कर रहा हूँ, वैसे भी मैं इन सामूहिक ब्...

25 March, 2010

कैसे बनाते है आदिवासी पारंम्परिक मंद (दारू/शराब)

बैगा आदिवासियों के द्वारा महुआ को सडा कर उसे आसवित कर बनाई जा रही देसी दारू  बैगा आदिवासियों के गांव मे हमारे कैमरे को देख बच्चो की खुशी  अ...

24 March, 2010

कैसे बने हमारी भाषाई पहचान

आज नेट पर आपका ब्लॉग देखा. जनभाषा छत्‍तीसगढी में ब्लॉग शुरू करने के लिए बधाई! हमलोग यहाँ झारखण्ड में झारखंडी भाषाओँ के संरक्षण और उनके विक...

23 March, 2010

छत्‍त‍ीसगढी भाषा में शौर्य गान का नाम है जस गीत

शहरों में नवरात्रि की धूम चारों ओर है, मंदिरों और माता के दरबार में आरती के बाद जस गीत व सेवागीत गाए जा रहे हैं। शीतला मंदिर, चंडी मंदिर, ...

22 March, 2010

राजनैतिक चेतना का अभाव : एसडीएम पर मंत्री की थप्‍पड की गूंज

कल किसी रामविचार कहे जाने वाले की अभद्रता और गंवारपन की खबर अखबार में पढ़ी तब से इसी विषय पर सोच रहा हूं। सोचता हूं कि दिन-रात पढ़ाई और मेह...

20 March, 2010

डॉ.वैरियर एल्विन और अंग्रेजों नें छत्तीसगढ़ केन्द्रित जो भी लिखा है वह हमारी गुलामी की दास्‍तान है.

छत्तीसगढ़ के आदि संदर्भों के लिए सदैव डॉ.वैरियर एल्विन को याद किया जाता रहा है और इसमें कोई दो मत नहीं है कि वैरियर एल्विन नें छत्तीसगढ़ के ...

13 March, 2010

अपने ब्लॉग को सजाना अब और आसान - ब्लॉगर ने की टेम्पलेट डिजाइनर की घोषणा

गूगल ने कल ब्लॉग को मनचाहा रूप और आकार देने की प्रक्रिया को और आसान बनाने के लिए इंटरफेस टेम्पलेट डिजाइनर की सुविधा प्रदान की है. गूगल की घो...

09 March, 2010

जिनके नाम पर बसा बिलासपुर : बिलासा दाई

बात पुरानी है । तब दोनों ओर घने जंगल थे । बीच में बहती ती अरपा नदी । नदी में पानी था भरपूर । जंगल में कहीं-कहीं गांव थे । छोटे-छोटे गांव । न...

07 March, 2010

क्रिकेट नेता एक्टर हर महफिल की शान, दाढ़ी, टोपी बन गया गालिब का दीवान : निदा फ़ाज़ली

पिछले दिनो एक मुशायरे मे भाग लेने के लिये देश के प्रख्यात गज़लकार निदा फ़ाज़ली जी भिलाई आये थे. उनके इस प्रवास का लाभ उठाने नगर के पत्रकार और...

06 March, 2010

महाकवि कपिलनाथ कश्यप : महाकाव्यों के रचइता

7 मार्च . जयंती पर विशेष आज कलम पकडते ही तुरत लिखो तुरत छपो की मंशा लेकर लेखन करने वालों की फौज बढते जा रही है. किन्तु हमारे अग्रपुरूषों नें...

05 March, 2010

व्यंग्य कवि कोदूराम दलित

छत्तीसगढी भाषा साहित्य के इतिहास पर नजर दौडानें मात्र से  बार बार एक नाम छत्तीसगढी कविता के क्षितिज पर चमकता है. वह है  छत्तीसगढी भाषा के ख्...

04 March, 2010

आभासी दुनिया के दीवाने और भूगोल के परवाने

पिछले दिनों ब्लॉगजगत को आभासी दुनिया करार देने के लिये काफी जद्दोजहद की गई. तब तात्कालीन परिस्थितियों एवं विषय को देखते हुए हम इससे असहमत थे...

03 March, 2010

रायपुर प्रेस क्लब के नॉन सेन्स टाइम्स मे अनिल पुसदकर जी

नानसेंस टाइम्स पूरे ब्रम्हांड का एक अनोखा सालाना अखबार जिसे होली के अवसर पर प्रकाशित किया जाता है , रायपुर प्रेस क्लब में प्रदेश के मूर्धन्...

मुझे चोट लगने पर अम्मा की आँखों में आँसू आए : गिरीश पंकज

 श्री गिरीश पंकज सद्भावना दर्पण (भारतीय एवं विश्व साहित्य की अनुवाद-पत्रिका) के संपादक श्री गिरीश पंकज कलम के दम पर जीवन यापन करने वाले चंद...

01 March, 2010

रंग पर्व की हार्दिक शुभकामनॉंए...........

अबके गये ले कब अईहव हो, अब के गये ले कब अईहव फागुन महराज, फागुन महराज, अब के गये ले कब अईहव. आप सभी को रंग पर्व की हार्दिक शुभ काम...