ब्लॉग छत्तीसगढ़

17 June, 2008

ब्लागर्स प्रोफाईल में अपने लम्बे ब्लाग लिस्ट में से कुछ को ही दिखाना

आजकल हिन्‍दी ब्‍लागर्स अनेक विधा में लगातार लिख रहे हैं और गूगल बाबा की कृपा से एक से अधिक ब्‍लाग बना कर हिन्‍दी के प्रति अपनी प्रतिबद्धता प्रस्‍तुत कर रहे हैं । कई हिन्‍दी ब्‍लागर्स तो सभी ब्‍लागों में नियमित तौर पर पोस्‍ट पब्लिश कर रहे हैं पर हमारे जैसे कुछ हिन्‍दी ब्‍लागर्स कई ब्‍लाग तो बना लिये हैं पर उन्‍हें नियमित अपडेट नहीं कर पा रहे हैं । ऐसे में एक मुख्‍य ब्‍लाग के अतिरिक्‍त अन्‍य ब्‍लाग भी लाईन से हमारे प्रोफाईल में नजर आते रहते हैं । इन्‍हें प्रोफाईल से हटाने का साधन आरंभिक तौर पर हमें ब्‍लाग डिलीट करना ही समझ में आता था । पर ऐसे में हमारे पसंद के ब्‍लाग यूआरएल सदा सदा के लिये समाप्‍त हो जाते है और डिलीट होने के कारण भविष्‍य में उपयोग के लिये इसे बचाया नहीं जा सकता । इसका दूसरा तरीका है वह यह है कि हम अपने दूसरे आई डी से ब्‍लाग बनायें पर ऐसे में गूगल एड सेंस की चवन्‍नी अट्ठन्‍नी से सौ डालर तक का सफर एक आई डी में चालीस तो दूसरे आई डी में साठ पहुचकर भी शुरू नहीं हो पाता । इस समस्‍या का हल हमें ब्‍लागर्स प्रोफाईल में ही नजर आया जिसे हम आपके लिये प्रस्‍तुत कर रहे हैं ।


जब हम किसी ब्‍लाग में टिप्‍पणी करते हैं तो वहां से कई पाठक जिस लिंक के सहारे हमारे ब्‍लाग तक आते हैं वह साधन है हमारे ब्‍लागर्स प्रोफाईल का लिक । जब पाठक इस लिंक को क्लिक कर हमारे प्रोफाईल में आते हैं तब हमारे प्रोफाईल में लम्‍बे ब्‍लागों के लिस्‍ट को देखकर फैसला नहीं कर पाते कि कौन सा ब्‍लाग इस प्रोफाईल मालिक का आमुख ब्‍लाग है । ऐसे में कई ब्‍लागर्स चाहते हैं कि प्रोफाईल में उनका आमुख ब्‍लाग ही दिखाई दे ।



इस समस्‍या का हल ब्‍लागर्स डेशबोर्ड के एडिट प्रोफाईल में उपलब्‍ध है । इसके लिये एडिट प्रोफाईल में जाकर सलेक्‍ट ब्‍लाग टू डिस्‍प्‍ले को क्लिक करें । वहां आपको आपके सभी ब्‍लाग के शीर्षक नजर आयेंगें जिसके आगे खाने बने होंगें जिसमें सभी खानों में टिक लगा होगा । यहां आप जिस जिस ब्‍लाग को प्रोफाईल में दिखाना चाहते हैं उसके सामने ही टिक रहने दें बाकी में से टिक को क्लिक कर हटा लेवें । अब सेव सेटिंग कर पुन: एडिट प्रोफाईल पेज में आयें और पेज के नीचे दिये गये सेव प्रोफाईल को क्लिक करें ।


आपके ब्‍लागर्स प्रोफाईल में अब वही ब्‍लाग ही नजर आयेंगा जिसे आपने टिक किया है ।

संजीव तिवारी

5 comments:

  1. अच्छी पाठशाला चला रहे हैं आप।

    ReplyDelete
  2. ये हुई न सालिड काम की जानकारी. बहुत आभार.

    ReplyDelete
  3. आपके सहयोग से हमने भी अपने ब्लाग को नया चोला पहनाया है देखकर बताइयेगा कैसा है ॥ ज्ञान बाटने की उदारता के लिये धन्यवाद

    ReplyDelete
  4. आपकी राय अच्छ लगी ।

    ReplyDelete
  5. आपकी राय अच्छ लगी ।

    ReplyDelete

आपकी टिप्पणियों का स्वागत है. (टिप्पणियों के प्रकाशित होने में कुछ समय लग सकता है.) -संजीव तिवारी, दुर्ग (छ.ग.)

loading...

Popular Posts